Press release details

21-Jul-2021:थाना मरईगुड़ा क्षेत्रान्तर्गत 01 स्थाई वारंटी नक्सली आरोपी गिरफ्तार। वर्ष 2016 में थाना मरईगुड़ा क्षेत्र में सुरक्षाबलों के गस्त पार्टी पर क्षति पहुचाने की नियत से लगाया गया आईईडी । थाना मरईगुड़ा के ग्राम वीरापुरम् का निवासी है आरोपी नक्सली । फरार नक्सली आरोपी के विरूद्ध गिरफ्तारी हेतू माननीय न्यायालय सुकमा के द्वारा जारी किया गया था गिरफ्तारी वारंट। 50,217 वाहिनी सीआरपीएफ एवं जिला पुलिस बल की संयुक्त कार्यवाही।
जिला सुकमा में श्री सुंदरराज पी. पुलिस महानिरीक्षक , बस्तर रेंज जगदलपुर (छ0ग0), श्री राजीव कुमार ठाकुर , उप महानिरीक्षक सीआरपीएफ (परिचालन कोंटा रेंज) एवं श्री सुनील शर्मा पुलिस अधीक्षक सुकमा (छ0ग0) के निर्देशन में चलायें जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत् दिनांक 20.07.2021 को श्री अशोक कुमार कमांडेन्ट 217 वाहिनी सीआरपीएफ , तथा श्री पंकज पटेल पुलिस अनुविभागीय अधिकारी मरईगुड़ा के मार्गदर्शन में कैम्प लिंगनपल्ली से श्री उज्जल कुमार टूआईसी के हमराह 50 वाहिनी सीआरपीएफ एवं एसी राजबीर सिंह के हमराह 217 वाहिनी सीआरपीएफ तथा थाना मरईगुड़ा से उनि. सत्यवादी साहू थाना प्रभारी के हमराह जिला बल की संयुक्त पार्टी एरिया डोमिनेशन/नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतू ग्राम वीरापुरम व आसपास क्षेत्र की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान ग्राम वीरापुरम के पास 01 संदिग्घ व्यक्ति पुलिस पार्टी को अपने ओर आते देख कर भागने/छुपने की कोशिश कर रहा था जिसे घेराबन्दी कर पकड़ा गया। पूछताछ करने पर अपना नाम मड़कम भीमा पिता मड़कम दुला उम्र 35 वर्ष जाति मुरिया साकिन वीरापुरम थाना मरईगुड़ा जिला सुकमा का होना तथा प्रतिबंधित माओवादी संगठन में जनमिलिशिया के पद पर कार्य करना बताया गया । नक्सली संगठन में कार्य करने बताया जाने से थाना मरईगुड़ा लाकर नक्सल रिकार्ड चेक करने पर मड़कम भीमा दिनांक 08.06.2016 को मरईगुड़ा - गोलापल्ली मार्ग में ग्राम दोरामंगू जाने वाले पगडंडी रास्ते किनारे में सुरक्षाबलों को क्षति पहुचाने की नीयत से आईईडी लगााने कि घटना में अन्य नक्सलियों के साथ सामिल था। घटना के संबंध में थाना मरईगुड़ा में अपराध क्रमांक 03/2016 धारा 04 विस्फोटक पदार्थ अधिनियम 1908 प्रकरण पंजीबद्ध है । उक्त प्रकरण की चार्जशीट दाखिला के पश्चात् माननीय न्यायालय सुकमा द्वारा दिनांक 16.04.2018 को मड़कम भीमा की गिरफ्तारी हेतू स्थायी वारंटी जारी किया गया था। जिसे आज दिनांक 20.07.2021 को विधिवत् स्थायी वारंटी की तामिली कर माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर जेल दाखिला किया गया।
news_image