Press release details

13-Mar-2021:दिनांक 08.12.2018 को चितंलनार थाना क्षेत्र में आईईडी लगाने की घटना में शामिल 01 नक्सली आरोपी गिरफ्तार। थाना चिंतलनार के ग्राम किस्टाराम (किस्टावरम्) का निवासी हैं आरोपी नक्सली । थाना चिंतलनार क्षेत्रान्तर्गत ग्राम रावगुड़ा के जंगल पहाड़ी से हुई थी गिरफ्तारी । जिला पुलिस बल की कार्यवाही ।
जिला सुकमा में वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत दिनांक 12.03.2021 को थाना चिंतलनार से उनि. विनय निराला, थाना प्रभारी चिंतलनार के हमराह थाना स्टाॅफ एरिया डोमिनेशन/नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु रावगुड़ा की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान मुखबिर से सूचना मिला की कुछ संदिग्ध व्यक्ति रावगुड़ा जाने के रास्ते में मुर्गा बाजार के पास आये है। सूचना पर रावगुड़ा के जंगल के पास घेराबंदी कर एक व्यक्ति को पकड़ा गया बाकि व्यक्ति जंगल झाड़ी का आड़ लेकर भाग गये । पकड़े व्यक्ति से मौके पर पुछताछ करने पर अपना नाम सोड़ी नागा पिता सोड़ी हिड़मा (डीएकेएमएस सदस्य सुरपनगुड़ा आरपीसी) उम्र 35 वर्ष जाति मुरिया साकिन किस्टाराम (किस्टावरम्) थाना चिंतलनार जिला सुकमा का होना बताया थाना लाकर गहन पुछताछ करने पर सोड़ी नागा प्रतिबंधित माओवादी संगठन में सुरपनगुड़ा आरपीसी अन्तर्गत डीएकेएमएस सदस्य के पद पर विगत 03-04 वर्ष से कार्यरत् रहना व थाना चिंतलनार क्षेत्रान्तर्गत दिनांक 08.12.2018 को चिंतलनार से लखापाल जाने वाली सड़क के दाहिने नाले के पास पुलिस पार्टी को जान से मारने की नियत से आईईडी लगाने की घटना मेें अपने अन्य नक्सली साथियों क साथ शामिल पाया गया । घटना पर थाना चिंतलनार में अपराध क्रमांक 13/2018 धारा 307,120 (बी) भादवि. 3,4 वि.प.अधि. का प्रकरण पंजीबद्ध हैं। उक्त नक्सली आरोपी को आज दिनांक 12.03.2021 को विधिवत गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर जेल दाखिला किया गया । आरोपी सोड़ी नागा वर्ष 2007 में कोंटा एरिया अन्तर्गत ग्राम गगनपल्ली मे मिलिशया सदस्य के पद पर भर्ती होकर नक्सली संगठन में विभिन्न स्तर पर वर्ष 2008-2012 तक टेक्नीकल टीम सदस्य , वर्ष 2012 - 2017 तक जगरगुंडा एरिया कमेटी अन्तर्गत जनताना सरकार अध्यक्ष के पद पर कार्यरत् रहा वर्ष 2017 में संगठन में शादी कर अपने गांव आकर सुरपनगुड़ा आरपीसी अन्तर्गत विलेज आर्गनाईनेशन में सक्रिय रूप से कार्य कर रहा था।
news_image