Press release details

30-Oct-2020:दुलेड़ के जंगलों में पुलिस-नक्सली मुठभेड़, 07-08 नक्सलियों को लगी गोली, 01 नक्सली का शव एवं 01 नग .303 रायफल सहित भारी मात्रा मंे विस्फोट सामग्री बरामद
जिला सुकमा में पुलिस महानिरीक्षक, श्री संुदरराज पी. के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत ग्राम मिनपा, दुलेड़, बड़केड़वाल, कुमोड़तोंग क्षेत्र में नक्सलियों की बड़ी संख्या में उपस्थिति की आसूचना पर दिनांक 27.10.2020 को श्री योग्यान सिंह, उप महानिरीक्षक (आॅप्स.) सीआरपीएफ सुकमा एवं श्री के. एल. ध्रुव, पुलिस अधीक्षक सुकमा के नेतृत्व में सीआरपीएफ कमांडेन्ट धर्मेन्द्र सिंह एवं कोबरा कमांडेन्ट सौमित्रा राय के नेतृत्व में डीआरजी, एसटीएफ, सीआरपीएफ एवं कोबरा की संयुक्त पार्टी थाना चिंतागुफा एवं थाना चिंतलनार क्षेत्र में अलग-अलग टीम बनाकर विषेष नक्सल विरोधी अभियान हेतु रवाना हुई थी कि अभियान के दौरान दिनांक 28.10.2020 को बुरकापाल से निकली डीआरजी, एसटीएफ एवं कोबरा की पार्टी ग्राम कंुजी दुलेड़ के जंगल-पहाड़ी की सर्चिंग करते हुए आगे बढ़ रही थी तभी लगभग 10ः00 बजे पूर्व से घात लगाकर बैठे नक्सलियों के साउथ बस्तर बटालियन के सिविल एक्षन टीम के लगभग 15-20 सशस्त्र नक्सलियों द्वारा पुलिस पार्टी को जान से मारने एवं हथियार लूटने की नीयत से अलग-अलग दिषाओं से अंधाधंुध फायरिंग करने लगे। मुठभेड़ स्थल पर मौजूद डीआईजी योग्यान सिंह तथा निकटतम कैम्प में मोर्चा संभाले पुलिस अधीक्षक के.एल. ध्रुव के द्वारा बेहतर समन्वय व कमान्ड के द्वारा पुलिस बल को तत्काल अपनी सुरक्षित पोजिषन लेकर आत्मरक्षार्थ काउण्टर अटैक करने हेतु निर्देषित किये। दोनो ओर से लगभग 30 मिनट तक भीषण मुठभेड़ चली। मुठभेड़ स्थल पर नक्सलियों को घेरने की कोषिष पुलिस लगातार कर रही थी, जिससे खुद को घिरता देख नक्सलियों के पैर उखड़ गये, और वे जंगलों की ओर अपने घायल साथियों को लेकर वापस भाग गये। मुठभेड़ के दौरान 07-08 नक्सलियों को गोली लगकर गिरते हुए देखा गया। मुठभेड़ पश्चात् घटना स्थल की सर्चिंग करने पर 01 महिला नक्सली का षव व षव के पास 01 नग .303 रायफल मय मैगजीन व 08 नग जिंदा राउण्ड, 01 नग आईईडी, 10 नग इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, 05 नग जिलेटिन राॅड, 06 नग गांठ लगा हुआ कोर्डेक्स वायर, 01 बंडल इलेक्ट्रिक वायर, 02 नग पिट्ठू, .303 का 01 नग खाली खोखा, नक्सली साहित्य, नक्सली वर्दी, कपड़े व अन्य दैनिक उपयोगी सामाग्री बरामद किया गया। मुठभेड़ स्थल पर कई जगह खून के धब्बे व घसीटने के निषान दिखाई दिये जिससे कई और नक्सलियों की मारे जाने या घायल होने की संभावना है। पुलिस पार्टी द्वारा नक्सलियों के कोर जोन कहे जाने वाले इलाके में लगभग तीन दिन से ज्यादा डोमिनेट कर आॅपरेषन का संचालन डीआईजी योग्यान सिंह व पुलिस अधीक्षक के.एल. ध्रुव के नेतृत्व में किया गया। घटना में मृत महिला नक्सली की पहचान कोवासी देवे (साउथ बस्तर बटालियन नंबर 01 की सिविल टीम सदस्य) के रूप में की गई है जो विगत कई वर्षो से नक्सल संगठन में जुड़कर सक्रिय रूप से कार्यरत थी व कई नक्सली घटनाओं में शामिल थी। नक्सलियों के विरूद्ध पुलिस का आका्रमक अभियान लगातार जारी रहेगा।
news_image