जिला सुकमा में अलग-अगल थानों में 02 नक्सली सहयोगी सहित 06 आरोपी गिरफ्तार, दिनांक 14.09.2020

18-Sep-2020

जिला सुकमा में वरिष्ठ अधिकारियांे के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत दिनांक 14.09.2020 को थाना/कैम्प पोलमपल्ली से सीआरपीएफ टूआईसी. श्री एस.एस. मिश्रा 150 वाहिनी सीआरपीएफ के नेतृत्व में, श्री अखिलेष कौषिक, एसडीओपी दोरनापाल व उनि. संजय यादव के हमराह जिला बल, टूआईसी. नवीन राणा के हमराह 02 वाहिनी सीआरपीएफ एवं डीसी. निखिलेष भारद्वाज व एसी. अभिषेक चैबे के हमराह 74 वाहिनी सीआरपीएफ का बल एरिया डोमिनेषन व नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु ग्राम पालामड़गू, कोर्रापाड़, सुरपनपारा की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान ग्राम पालामड़गू के जंगल के पास 01 संदिग्ध व्यक्ति पुलिस पार्टी को देखकर भागने/छुपने की कोषिष कर रहा था जिसे घेराबंदी कर पकड़ा गया पूछताछ करने पर अपना नाम कवासी बुधरा पिता कवासी जोगा (डीएकेएमएस उपाध्यक्ष) उम्र 47 वर्ष जाति मुरिया साकिन पालामड़गू जिला सुकमा का होना बताये। जो थाना पोलमपल्ली क्षेत्रान्तर्गत दिनांक 27.12.2018 को ग्राम दोरनापाल-जगरगुंडा मुख्य मार्ग शीशी रोड ग्राम गोरगुंडा के पास आम नागरिक से डकैती करने की घटना में था, घटना पर थाना पोलमपल्ली में अप.क्र. 17/18 धारा 147, 148, 149, 341, 395 भादवि., 25, 27 आम्र्स एक्ट पंजीबद्व है। उक्त नक्सली आरोपी को गिरफ्तार कर आज दिनांक 14.09.2020 को माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेष कर जेल दाखिला किया गया। इसी क्रम में दिनांक 13.09.2020 को कैम्प चिंतलनार कोेबरा सहायक कमाण्डेन्ट श्रीधर आर के हमराह 201 वाहिनी कोबरा व जिला बल का संयुक्त बल नक्सली गस्त सर्चिंग हेतु ग्राम मरकागुड़ा, कोत्तागुड़ा जंगल की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान 01 लाल रंग का महिन्द्रा ट्रेक्टर राषन व अन्य सामान से भरा हुआ ग्राम कुमोड़तोंग की ओर जा रहा था, जिसे पुलिस पार्टी द्वारा रूकवाने पर उनमें सवार 04 लोगो में से 02 लोग ट्रेक्टर से कूदकर भागने लगे जिन्हे पुलिस पार्टी द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा गया और ट्रेक्टर में सवार पांचो व्यक्तिओं से पूछताछ करने पर संतोष जनक जवाब नहीं मिलने पर ट्रेक्टर में भरा सामान सहित पांचो व्यक्तियों को थाना चिंतलनार लाया गया एवं गहन पूछताछ किया गया। जिसमें ट्रैक्टर चालक ने अपना नाम 01. मुचाकी देवा पिता स्व. भीमा (नक्सली सहयोगी) उम्र 25 वर्ष साकिन कुमोड़तोंग, थाना पामेड़, जिला बीजापुर एवं आपने आप को नक्सलियों का सहयोगी होना बताया 02. हेमला कोसा पिता हुंगा (मिलिषिया सदस्य) उम्र 35 वर्ष साकिन फुलनपाड़, थाना चिंतलनार, जिला सुकमा का होना बताया एवं साथ ही यह बताया कि वह मिलिषिया सदस्य के रूप में वर्ष 2011 से कार्यरत् है और पूर्व में वह डीव्हीसी पापा राव का सुरक्षा गार्ड रह चुका है, 03. मुचाकी आयता पिता हुंगा (डीएकेएमएस सदस्य) उम्र 30 वर्ष साकिन कुमोड़तोंग, थाना पामेड़, जिला सुकमा का होना तथा डीएकेएमएस सदस्य के रूप में कार्य करना बताया, 04. मड़कम भीमा पिता स्व. नंदा (मिलिषिया सदस्य) उम्र 25 वर्ष साकिन केरलापेंदा, हाॅल लखापाल, थाना चिंतलनार, जिला सुकमा तथा मिलिषिया सदस्य के रूप में कार्य करना बताया, 05. राजकुमार रूंजे पिता लक्ष्मैया (नक्सली सहयोगी) उम्र 50 वर्ष साकिन चिंतलनार, थाना चिंतलनार, जिला सुकमा का होना तथा अपने आप को नक्सलियों का सहयोगी होना बताया एवं उक्त ट्रेक्टर में भरा सामान चावल 01 बोरी, आटा 01 बोरी, नारियल 01 बोरी, अगरबत्ती 05 पैकेट, स्कुल का किताब 01 बोरी, टाइगर बिस्कुट 02 कार्टून, चाॅकलेट बिस्कुट 03 कार्टून, पतंजली बिस्कुट 02 कार्टून, पंजाबी तड़का 46 नग, मूंग दाल नमकीन 48 नग, आकाष नमकीन 60 नग, भूंजा चना 01 बोरी, सरगन साबुन 02 कार्टून, घड़ी साबुन 01 कार्टून, मितान साबुन 01 कार्टून, सिंथाल साबुन 01 कार्टून, लाईफबाॅय साबुन 02 कार्टून, पूजा साबुन 02 कार्टून, संजीवनी आरआई तेल 01 कार्टून, डाबर सरसो तेल 01 कार्टून, शक्कर 02 बोरी, तेल 06 टीना, तंबाकू 02 बोरी, चूना 05 पैकेट, प्लाज 02 बोरी, आलू 03 बोरी, पैरागान चप्पल 02 जोड़ी (सामान लगभग 80 से 85 हजार का) एवं एक अन्य कार्टून में विस्फोट सामग्री 02 बण्डल इलेक्ट्रिक वायर, 01 बण्डल कोर्डेक्य वायर, 12 नग जिलेटिन राॅड, 10 नग इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, 40 नग पेंसिल बैटरी, 06 नग टार्च बैटरी को नक्सली कमांडर लोकेष एवं जगदीष के कहने पर नक्सलियों तक पहुंचाया जाना बताया गया। उक्त सामान अवैध रूप से प्रतिबंधित माओवादी संगठन के नक्सलियों तक सप्लाई करते पाये जाने पर उनसे 01 ट्रेक्टर, राषन सामान व विस्फोट सामान को जप्त कर उक्त पांचो व्यक्तियों के विरूद्ध थाना चिंतलनार में अप. क्र. 08/2020 धारा 8 (1)(2)(3)(5) छ0ग0 विषेष जन सुरक्षा अधि. 2005 एवं 4, 5 वि.प. अधि. का प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। नक्सलियों के मुख्य सप्लायर मुचाकी देवा द्वारा पूछताछ में यह भी बताया गया कि वह नक्सली कमांडर संदेष से अनुमति लेकर अपने ग्राम में किराना दुकान संचालित कर रहा था व सुकमा, दोरनापाल से अपने दुकान की आड़ में नक्सलियों को सामान परिवहन कर पहुंचाता था। प्रायः इसके दुकान में जगरगुंडा एरिया के नक्सली संदेष व लोकेष व उसके सदस्य आकर पुलिस की गतिविधियों के आरे में पूछताछ कर नक्सली जरूरत का सामान लेकर जाते थे। देवा द्वारा मई-जून में मिनपा घटना के उपरांत ग्राम दारेली व इत्तालंका के पास हुये नक्सलियों के द्वारा कराये गये कलागजब कार्यक्रम जो 03 दिवस चला। उनके लिए 05 दिन पूर्व चेरला से लगभग 80-85 हजार का सामान नक्सली कुंजाम हुंगी (डीएकेएमएस अध्यक्ष, जगरगुंडा एसी) के कहने पर लाकर छोड़ा था। इसी प्रकार माह जूलाई 2020 में नक्सली कमांडर जगदीष डीव्हीसी के लिए 08 जीबी व 64 जीबी मेमोरी कार्ड दोरनापाल किसी मोबाईल दुकान से लेकर छोड़ा था। देवा से पूछताछ में कुछ नक्सली मददगारो के बारे में संज्ञान में आया है जिनकी गतिविधियों पर नजर रख आगामी दिनों में कार्यवाही किया जाएगा। इसी प्रकार नक्सली सहयोगी राजकुमार रूंजे वर्ष 2011-12 से पूर्व जगरगुंडा एसी. सचिव पापाराव डीव्हीसी के संपर्क में रहकर अंदरूनी क्षेत्रों के विभिन्न बाजारों में जाकर नक्सलियों की उपयोग की सामग्री सप्लाई करता था। वर्तमान में नक्सली संदेष के संपर्क में रहकर उक्त कार्य कर रहा था। चिंतलनार से नक्सलियों द्वारा वसूली के अवैध पार्टी चंदा भी जमाकर नक्सलियों तक पहुंचाया है। सभी नक्सली आरोपियों को दिनांक 13.09.2020 को गिरफ्तार कर आज दिनांक 14.09.2020 को माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेष कर जेल दाखिला किया गया।

जिला सुकमा में 01 आरोपी गिरफ्तार दिनांक 14.09.2020

18-Sep-2020

जिला सुकमा में वरिष्ठ अधिकारियांे के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत दिनांक 14.09.2020 को थाना/कैम्प पोलमपल्ली से सीआरपीएफ टूआईसी. श्री एस.एस. मिश्रा 150 वाहिनी सीआरपीएफ के नेतृत्व में, श्री अखिलेष कौषिक, एसडीओपी दोरनापाल व उनि. संजय यादव के हमराह जिला बल, टूआईसी. नवीन राणा के हमराह 02 वाहिनी सीआरपीएफ एवं डीसी. निखिलेष भारद्वाज व एसी. अभिषेक चैबे के हमराह 74 वाहिनी सीआरपीएफ का बल एरिया डोमिनेषन व नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु ग्राम पालामड़गू, कोर्रापाड़, सुरपनपारा की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान ग्राम पालामड़गू के जंगल के पास 01 संदिग्ध व्यक्ति पुलिस पार्टी को देखकर भागने/छुपने की कोषिष कर रहा था जिसे घेराबंदी कर पकड़ा गया पूछताछ करने पर अपना नाम कवासी बुधरा पिता कवासी जोगा (डीएकेएमएस उपाध्यक्ष, पालामड़गू) उम्र 47 वर्ष जाति मुरिया साकिन पालामड़गू जिला सुकमा का होना बताये। जो थाना पोलमपल्ली क्षेत्रान्तर्गत दिनांक 27.12.2018 को ग्राम दोरनापाल-जगरगुंडा मुख्य मार्ग शीशी रोड ग्राम गोरगुंडा के पास आम नागरिक से डकैती करने की घटना में था, घटना पर थाना पोलमपल्ली में अप.क्र. 17/18 धारा 147, 148, 149, 341, 395 भादवि., 25, 27 आम्र्स एक्ट पंजीबद्व है। उक्त नक्सली आरोपी को गिरफ्तार कर आज दिनांक 14.09.2020 को माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेष कर जेल दाखिला किया गया।

जिला सुकमा के थाना भेजी व थाना किस्टाराम क्षेत्र में पुलिस-नक्सली मुठभेड़, नक्सली कैम्प ध्वस्त, मौके से टैंट, बायनाकुलर, पिट्ठू सहित अन्य सामाग्री बरामद

10-Sep-2020

जिला सुकमा में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत थाना भेजी क्षेत्र में माओवादी नक्सलियों की उपस्थिति की स्थानीय आसूचना पर दिनांक 08.09.2020 को डीआरजी, एसटीएफ एवं 202 वाहिनी कोबरा की संयुक्त पार्टी विषेष नक्सल अभियान हेतु ग्राम एंटापाड़, पेंटापाड़ व आसपास के जंगल-पहाड़ी क्षेत्र की ओर रवाना हुए थे। अभियान के दौरान दिनांक 09.09.2020 के प्रातः डीआरजी एवं एसटीएफ की पार्टी ग्राम एंटापाड़ के जंगलों की सर्चिंग कर रहे थे जहां नक्सलियों का कैम्प दिखाई देने पर पुलिस पार्टी कैम्प की घेराबंदी करते हुए आगे बढ़ रहे थे। तभी कैम्प में मौजूद नक्सलियों द्वारा पुलिस पार्टी को अपनी ओर आता देखकर अंधाधंुध फायरिंग करना शुरू कर दिये। पुलिस पार्टी द्वारा भी जवाबी कार्यवाही में फायरिंग किया गया, जिससे नक्सली जंगल-झाड़ी का आड़ लेकर भागने में सफल हो गये। दोनो ओर से फायरिंग लगभग 20-25 मिनट तक चली। फायरिंग पश्चात नक्सलियों का कैम्प ध्वस्त कर मौके की सर्चिंग करने पर 01 नग बायनाकूलर, 02 नग बड़ा पिट्ठू, 18 नग इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, लगभग 30 मीटर इलेक्ट्रिक वायर, कोर्डेक्स वायर, टैंट का पाॅलिथिन, फटाका, कपड़े, बर्तन, रस्सी, नक्सली साहित्य व अन्य दैनिक उपयोगी सामाग्री बरामद किया गया। 02. किस्टाराम क्षेत्र में आज दिनांक 09.09.20 को नक्सलियों द्वारा बड़ी संख्या में ग्रामीणों को लाकर किस्टाराम से पालोड़ी के मध्य सड़क काटने व एंबुष लगाये जाने की सूचना मिलने पर किस्टाराम व पालोड़ी से डीआरजी, एसटीएफ एवं 208 वाहिनी कोबरा की टीम सूचना स्थल के लिए रवाना हुई। नक्सलियों द्वारा पुलिस पार्टी को अपनी ओर आता देख अंधाधंुध फायरिंग करना शुरू कर दिये। पुलिस पार्टी द्वारा भी जवाबी कार्यवाही में फायरिंग किया गया। पुलिस पार्टी व नक्सलियों के बीच रूक-रूककर लगभग 02 घण्टे तक फायरिंग चली। बाद नक्सली खुद को कमजोर पड़ता देख जंगल का फायदा उठाकर भाग गये।

जिला सुकमा में 02 नक्सली आरोपी गिरप्तार

07-Sep-2020

जिला सुकमा में वरिष्ठ अधिकारियांे के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत दिनांक 06.09.2020 को थाना चिंतलनार उनि. विनय निराला के हमराह जिला बल एवं कोबरा डीसी. अभिजीत सिंह व एसी. भास्कर राव के हमराह 201 वाहिनी कोबरा ‘‘ई$ए’’ कपंनी का संयुक्त बल आरओपी/एरिया डोमिनेषन हेतु जगरगंुडा रोड मल्लेबागू नाला की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान मल्लेबागू नाला के पास 02 संदिग्ध व्यक्ति पुलिस पार्टी को देखकर भागने/छुपने की कोषिष कर रहे थे जिन्हे घेराबंदी कर पकड़ा गया पूछताछ करने पर अपना नाम क्रमषः 01. माड़वी देवा पिता स्व. नंदा (मिलिषिया सदस्य) जाति मुरिया उम्र 30 वर्ष साकिन पोड़ागाडूम (गानगुलाब) थाना चिंतलनार जिला सुकमा, 02. गोंसे देवा पिता हड़मा (डीएकेएमएस सदस्य) उम्र 27 वर्ष जाति मुरिया साकिन लखापाल, थाना चिंतलनार जिला सुकमा का होना बताया। जो थाना चिंतलनार क्षेत्रान्तर्गत दिनांक 21.10.2018 को ग्राम मोरपल्ली व तिमिरगुड़ा के बीच नाला के पास में पुलिस गस्त पार्टी पर आईईडी विस्फोट करने की घटना में शामिल थे, जिसमें 01 आम नागरिक घायल हुआ था, घटना पर थाना चिंतलनार में अप.क्र. 10/18 धारा 147, 148, 149, 307, 120 (बी) भादवि., 3, 5 वि.प. अधि. पंजीबद्व है। उक्त दोनो नक्सली आरोपियों को दिनांक 06.09.2020 को गिरफ्तार कर आज दिनांक 07.09.2020 को माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेष कर जेल दाखिला किया गया।

एस.बी.आई. सुकमा के करोड़ो के धोखाधड़ी मामले में बड़ा खुलासा, आरोपी फील्ड आॅफिसर सिसोदिया गिरफ्तार

30-Aug-2019

भारतीय स्टेट बैंक शाखा सुकमा में हुई धोखाधड़ी की खबरों को संज्ञान में लेते हुए वरिष्ठ अधिकारी पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज श्री विवेकानंद सिन्हा के निर्देष पर पुलिस अधीक्षक सुकमा श्री शलभ सिन्हा के मार्गदर्षन मे तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, श्री सिद्वार्थ तिवारी एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, श्री उदय किरण के नेतृत्व मे घटना का खुलासा एवं आरोपी की पतासाजी तथा विवेचना हेतु एक विषेष टीम का गठन किया गया। इसी तारतम्य में दिनांक 23/08/2019 को प्रार्थी कुंजाम उमेष पिता कुंजाम हुंगा उम्र 26 वर्ष साकिन बेदरे थाना जगरगुंडा के द्वारा थाना सुकमा में आवेदन प्रस्तुत किया गया कि माह मई 2019 मे उसने एस.बी.आई. सुकमा के फील्ड आफिसर विष्वजीत सिसोदिया से संपर्क कर व्यक्तिगत लोन के लिए आवेदन किया था तथा फील्ड आफिसर के द्वारा मांग करने पर उसने 08 नग कोरा हस्ताक्षरित चेक दिया था बाद मे जब प्रार्थी के खाते मे लोन की राषि आ गई तो आरोपी फील्ड आफिसर ने प्रार्थी के कोरा हस्ताक्षरित चेक का दुरूपयोग कर उसमे अपनी मर्जी से राषि भरकर प्रार्थी के खाते से 3,00,000/- रू0 निकाल लिये और प्रार्थी को लोन की पूरी राषि खाते मे नही आई कहकर गुमराह करता रहा। प्रार्थी के द्वारा आरोपी के मोबाइल से संपर्क कर लोन के शेष पैसा के लिए बोलने पर आरोपी ने 1,00,000/- रू0 प्रार्थी के खाते मे जमा करवाये थे इस प्रकार आरोपी ने प्रार्थी से छल कर उसे 2,00,000/- रू0 का नुकसान पहुॅचाया था, प्रार्थी के आवेदन पर थाना सुकमा मे अपराध क्रमांक 95/19 धारा 420, 409, 467, 468, 471 भा0दं0वि0 का अपराध पंजीब़द्ध कर विवेचना मे लिया गया। प्रकरण की विवेचना के दौरान एस.बी.आई. सुकमा से प्रार्थी के खाते से संबंधित जानकारी प्राप्त की गई तथा आरोपी विष्वजीत सिंह सिसोदिया को हिरासत मे लेकर पूछताछ करने पर उसने अपने मेमोरेण्डम मे प्रार्थी कुंजाम उमेष की तरह एस.बी.आई. सुकमा के अनेकों खाताधारकों के साथ छल कर उनके खातों से राषि निकालना बताया है तथा राषि को क्रिकेट के सट्टा मे हारने पर जीतने वाले विभिन्न लोगों के खातों मे लगभग 84,75,000 रूपये जमा करना बताया है तथा ग्राहकों से छल कर उनके खाते से निकाले गये राषि मंे से कुछ राषि अपनी कार टाटा नेक्सोन खरीदने मे लगाना व 2,00,000/- रू0 नगद अपने पास होना बताया आरोपी के निषानदेही पर 2,00,000 रूपये नगद तथा कार पुलिस द्वारा जप्त किया गया। पुलिस को विष्वजीत सिसोदिया के विरूद्ध अन्य और भी कई षिकायतें मिली है, जो विवेचनाधीन है। मामले की विवेचना व अपराधी की पतासाजी में पुलिस अनुविभागीय अधिकारी सुकमा प्रतीक चतुर्वेदी, नगर निरीक्षक सुकमा कोतवाली ए.के. नाग थाना प्रभारी गादीरास गौरव पाण्डेय, उप निरीक्षक महेष प्रधान, सत्यवादी साहू, मनोज कौषिक, सहा.उप निरी. अतुलेष राय, प्र.आर. संदीप झा, म.प्र.आर. सागर निषाद, आर. विजय सिदार की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

03 स्थायी वारंटी नक्सलियों द्वारा आत्मसमर्पण दिनांक 14.05.2019

15-May-2019

जिला सुकमा में पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस अधीक्षक सुकमा श्री डी0एस0मरावी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (आप्स.) श्री शलभ सिन्हा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत छत्तीसगढ़ शासन की पुनर्वास योजना के प्रचार-प्रसार से प्रभावित होकर खोखली माओवादी विचारधारा एवं उनके षोषण, अत्याचार, भेदभाव एवं हिंसा से तंग आकर प्रतिबंधित नक्सली संगठन में कार्यरत् नक्सली सदस्य कमषः 01. वेट्टी भीमा (जनमिलिषिया सदस्य) 02. मड़कम सुक्का (जनमिलिषिया सदस्य), 03. मड़कम हुंगा (डीएकेएमएस सदस्य) सभी निवासी थाना छिन्दगढ़ क्षेत्र जिला सुकमा द्वारा आज दिनांक 14.05.2019 को श्री सिद्वार्थ तिवारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, पुलिस अनुविभागीय अधिकारी सुकमा श्री प्रतीक चतुर्वेदी, श्री हूबलाल चंद्राकर थाना प्रभारी छिंदगढ़ के समक्ष बिना हथियार के समर्पण किया गया। आत्मसमर्पित नक्सलीगण थाना छिंदगढ़ अंतर्गत विभिन्न नक्सली गतिविधियों में शामिल रहे थे आत्मसमर्पित नक्सलियों के विरूद्ध थाना छिंदगढ़ में अपराध क्रमांक 09/17 दर्ज था। तीनों के विरूद्ध माननीय न्यायालय द्वारा गिरफ्तारी हेतु स्थाई वारंट जारी किया गया था। सभी आत्मसमर्पित नक्सलियों को छत्तीसगढ़ शासन की राहत राषि एवं पुनर्वास योजना के तहत नियमानुसार सहायता प्रदाय किया जायेगा।

जिला सुकमा में 01 नक्सली आरोपी गिरफ्तार दिनांक 02.04.2019

06-Apr-2019

जिला सुकमा में वरिष्ठ अधिकारियांे के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत दिनांक 01.04.2019 को थाना कोंटा में मोबाईल चेक पोस्ट कार्यवाही के दौरान मुखबिर से सूचना मिला कि एक संदिग्ध व्यक्ति बस स्टैंड में है। मुखबिर की सूचना पर थाना प्रभारी निरी. शरद सिंह के हमराह स्टाॅफ रवाना होकर संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ा गया। जिससे पूछताछ करने पर अपना नाम मुचाकी कोसा पिता मुचाकी हुंगा (पूर्व कोंटा एलओएस सदस्य वर्तमान गोमपाड़ कृषि कमेटी सदस्य) उम 26 वर्ष जाति मुरिया ग्राम गोमपाड़, थाना भेजी, जिला सुकमा का होना बताया। जो थाना कोंटा क्षेत्रान्तर्गत दिनांक 24.05.2015 को कोंटा निवासी आम नागरिक पोड़ियम सुक्का के घर में घुसकर पोड़ियम सुक्का व उनकी पत्नी पर गोली मारकर जान लेवा हमला करने की घटना में शामिल था। घटना पर थाना कोंटा में अप. क्र. 13/2015 धारा 147, 148, 149, 307 भादवि. 25, 27 आम्र्स एक्ट प्रकरण दर्ज हैं। उक्त नक्सली आरोपी को दिनांक 01.04.2015 को गिरफ्तार कर आज दिनांक 02.04.2019 को माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर जेल दाखिला किया गया।

जिला सुकमा में 01 महिला नक्सली गिरफ्तार, देशी कट्टा सहित अन्य सामग्री बरामद दिनांक 29.03.2019

06-Apr-2019

जिला सुकमा में श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, श्री डी. एस. मरावी, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत नक्सली आरोपियों की उपस्थिति सूचना पर थाना कुकानार से दिनांक 28.03.2019 को एसी. राजेन्द्र प्रसाद, 226 वाहिनी सीआरपीएफ ‘‘ई’’ कंपनी, जिला बल सउनि. सुखदेव बघेल के हमराह जिला बल एवं सीआरपीएफ का संयुक्त बल सूचना स्थल ग्राम पाण्डूपारा कुन्ना, बाघापारा कुन्ना, तोड़गोड़ापारा की ओर रवाना हुए थे कि सर्चिंग करते हुए ग्राम ताड़गोड़ापारा के पहुंचे थे कि 03-04 नक्सली सदस्य पुलिस पार्टी को देखकर भागने लगे जिन्हे पुलिस पार्टी द्वारा घेराबंदी किया गया। घेराबंदी कर 01 संदिग्ध महिला नक्सली को पकड़ा गया। जिनसे पूछताछ करने पर अपना नाम मड़कामी लक्ष्मी पिता मड़कामी देवा उम्र 35 वर्ष जाति गोड़ साकिन पोंदूम, थाना छिन्दगढ़, जिला सुकमा होना बतायी तथा उसके साथ 02 अन्य नक्सली थे जो भाग गये। पकड़े गये महिला नक्सली मड़कामी लक्ष्मी के पास रखे थैला को बारिकी से चेक करने पर 01 नग 12 बोर देशी कट्टा, 10 नग जिंदा राउण्ड, 01 नग लेदर मैग्जीन पोच, नक्सली साहित्य, कापी व अन्य सामग्री बरामद किया गया। उक्त महिला नक्सली आरोपी का यह कृत्य अपराध सदर पाये जाने पर थाना कुकानार में अपराध क्रमांक 07/2019 धारा 25, 27 आम्र्स एक्ट पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। गिरफ्तार महिला नक्सली को आज दिनांक 29.03.2019 को माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर जेल दाखिल किया गया।

जिला सुकमा में 01 स्थायी वारंटी नक्सली आरोपी गिरफ्तार दिनांक 20.03.2019

06-Apr-2019

जिला सुकमा में श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, श्री डी. एस. मरावी, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत नक्सलियों की उपस्थिति की मुखबिर से सूचना मिलने पर दिनांक 20.03.2019 को थाना दोरनापाल से निरी. शलैन्द्र नाग एवं टूआईसी पिन्टू यावद, 150 वाहिनी सीआरपीएफ के हमराह जिला बल एवं 150 वाहिनी सीआरपीएफ की संयुक्त पार्टी एरिया डोमिनेशन एवं नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु ग्राम कामापेदागुड़ा, देवरपल्ली की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान ग्राम कामापेदागुड़ा में पुलिस पार्टी को देखकर नक्सली आरोपी भागने/छुपने की कोशिश कर रहे, जिन्हे पुलिस पार्टी द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा गया। जिनसे पूछताछ करने पर अपना नाम ओयाम जोगा पिता गंगा (मिलिशिया डिप्टी कमांडर) उम्र 25 वर्ष जाति मुरिया साकिन जूपारा मिनपा, थाना चिंतागुफा जिला सुकमा का निवासी होना बताये। जो थाना चिंतागुफा क्षेत्रान्तर्गत दिनांक 30. 01.2017 को ग्राम दुलेड़ के जंगल में पुलिस पार्टी पर फायरिंग करने की घटना में शामिल था। घटना के संबंध में थाना चिंतागुफा में अप.क्र. 03/17 धारा 147, 148, 149, 307, 120 (बी), 124 (क) भादवि., 25, 27 आम्र्स एक्ट, 4 वि.प. अधि पंजीबद्ध है। प्रकरण पर उक्त आरोपी की गिरफ्तारी हेतु माननीय न्यायालय सुकमा द्वारा दिनांक 02.08.2017 को स्थायी गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। उक्त नक्सली आरोपी को गिरफ्तार कर आज दिनांक 20.03.2019 को माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर जेल भेजा गया।

जिला सुकमा में 01 स्थायी वारंटी नक्सली आरोपी गिरफ्तार दिनांक 20.03.2019

06-Apr-2019

जिला सुकमा में श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, श्री डी. एस. मरावी, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत नक्सलियों की उपस्थिति की मुखबिर से सूचना मिलने पर दिनांक 20.03.2019 को थाना कोंटा से उनि. शिवानन्द सिंह के हमराह स्टाॅफ मुखबिर की सूचना पर नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु कोंटा मेडिकल चैक की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान मेडिकल चैक के पास घेराबंदी कर 01 संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ा गया। जिससे पूछताछ करने पर अपना नाम माड़वी हुंगा पिता माड़वी देवा (डीएकेएमएस अध्यक्ष) उम्र 45 वर्ष जाति मुरिया साकिन बेलपोज्जा, थाना कोंटा, जिला सुकमा का निवासी होना बताया। जो थाना कोंटा क्षेत्रान्तर्गत दिनांक 10.04.18 को ग्राम इंजरम जोरानाला पुल के आगे मोड़ के पास वाहनो पर आगजनी करने एवं पुलिस पार्टी के उपर फायरिंग करने की घटना शामिल था। घटना के संबंध में थाना कोंटा में अपराध क्रमांक 04/18 धारा 147, 148, 149, 341, 294, 323, 506 (बी), 307, 435, 336, 427 भादवि., 25, 27 आम्र्स एक्ट पंजीबद्ध है। प्रकरण पर उक्त आरोपी की गिरफ्तारी हेतु माननीय न्यायालय सुकमा द्वारा दिनांक 13.07.18 को स्थायी गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। उक्त नक्सली आरोपी को गिरफ्तार कर आज दिनांक 20.03.2019 को माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर जेल भेजा गया।

जिला सुकमा में 01 स्थायी वारंटी सहित 03 नक्सली आरोपी गिरफ्तार दिनांक 28.02.2019

06-Apr-2019

जिला सुकमा में श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, श्री जितेन्द्र शुक्ल, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत नक्सलियों की उपस्थिति की मुखबिर से सूचना मिलने पर दिनांक 28.02.2019 को थाना कोंटा से निरी. शरद सिंह के हमराह स्टाफ जिला बल की पार्टी एरिया डोमिनेशन एवं नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु ग्राम उसकावाया, मुरलीगुड़ा, बण्डा की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान ग्राम उसकावाया के जंगल में 03 संदिग्ध व्यक्ति पुलिस पार्टी को देखकर भागने/छूपने की कोशिश कर रहे, जिन्हे पुलिस पार्टी द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा गया। जिनसे पूछताछ करने पर अपना नाम क्रमशः 01. सोढ़ी गुज्जी पिता हिड़मा (आरपीसी अध्यक्ष, नागाराम) उम्र 30 वर्ष साकिन नागाराम, थाना भेजी, 02. बारसे जोगा पिता बारसे भीमा (डीएकेएमएस अध्यक्ष, दुरमा) उम्र 31 वर्ष साकिन धुर्मा, थाना कोंटा, 03 कवासी गंगा पिता कवासी भीमा (नुलकातोंग मिलिशिया, सदस्य) उम्र 25 वर्ष साकिन नुलकातोंग, थाना कोंटा, सभी जिला सुकमा का निवासी होना बताये। जो सभी थाना कोंटा क्षेत्रान्तर्गत दिनांक 14.02.2019 को ग्राम इरपागुड़ा मोड़ फंदीगुड़ा के पास पुलिस गस्त पेट्रोलिंग पार्टी के उपर फायरिंग करने की घटना में शामिल थे। इसके अतिरिक्त आरोपी सोढ़ी गुज्जी दिनांक 11.01.17 को कैम्प गोरखा के पास भेजी इंजरम रोड में आईईडी लगाने की घटना में शामिल था। घटना पर थाना भेजी में अपराध क्र्रमांक 03/17 धारा 307, 120 (बी), 34 भादवि., 4 वि. प. अधिनियम पंजीबद्ध है। प्रकरण पर आरोपी सोढ़ी गुज्जी की गिरफ्तारी हेतु माननीय न्यायालय सुकमा द्वारा दिनांक 12.01.2018 को स्थायी गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। उक्त तीनों नक्सली आरोपियों को गिरफ्तार कर आज दिनांक 28.02.2019 को माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया।

जिला सुकमा में 03 लाख एवं 01 लाख के ईनामी सहित 04 नक्सली आरोपी गिरफ्तार दिनांक 15.02.2019

06-Apr-2019

जिला सुकमा में श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, श्री जितेन्द्र शुक्ल, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत नक्सलियों की उपस्थिति की मुखबिर से सूचना मिलने पर दिनांक 14.02.2019 को थाना पुसपाल से उनि. धर्मेन्द्र वैष्णव के हमराह स्टाफ जिला बल एवं डीआरजी एरिया डोमिनेशन एवं नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु ग्राम तुलसी, किरमिटी, दलदली की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान ग्राम तुलसी के जंगल में 04 संदिग्ध व्यक्ति पुलिस पार्टी को देखकर भागने/छूपने की कोशिश कर रहे, जिन्हे पुलिस पार्टी द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा गया। जिनसे पूछताछ करने पर अपना नाम क्रमशः 01. पोड़ियामी गंगा पिता पोड़ियामी पाण्डू (माचकोट एलओएस डिप्टी कमांडर, ईनामी 03 लाख रूपये छ.ग. शासन द्वारा) उम्र 25 वर्ष साकिन चेरकोटला, थाना माथली जिला मलकानगिरी, उड़ीसा, 02. मांगू धुरवा पिता सुकलाल धुरवा (डीएकेएमएस अध्यक्ष, ईनामी 01 लाख रूपये छ.ग. शासन द्वारा ) उम्र 25-26 वर्ष साकिन ग्राम तुलसी थाना माथली जिला मलकानगिरी उड़ीसा, 03. कोंदा मरकाम पिता अर्जून मरकाम (मिलिशिया सदस्य) उम्र 24 वर्ष साकिन गदमेपारा चांदामेटा, थाना दरभा, जिला बस्तर, 04. बैसाखू धुरवा पिता सुकमन धुरवा (मिलिशिया सदस्य) उम्र 22 वर्ष साकिन तुलसी, बड़कापारा, थाना माथली, जिला मलकानगिरी उड़ीसा के निवासी होना बताये। जो थाना तोंगपाल क्षेत्रान्तर्गत दिनांक 12.08.2015 को ग्राम बोडावाड़ा- नयापारा के बीच जंगल खेत नहर किनारे पुलिस गस्त पार्टी के उपर फायरिंग करने एवं दिनांक 23.12.2015 को ग्राम कुम्माकोलेंग के नयापारा निवासी आम नागरिक से मारपीट करने की घटना में शामिल थे। 01. पोड़ियामी गंगा के पास से चेक करने पर 01 नग टिफिन बम, 20 मीटर बिजली वायर, नक्सली साहित्य, 02. मांगू धुरवा के पास चेक करने पर 02 नग इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, 01 मीटर कोर्डेक्स वायर, नक्सली साहित्य, 03. कोंदा मरकाम के पास चेक करने पर 02 नग इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, 10 मीटर बिजली वायर, नक्सली साहित्य, 04. बैसाखू धुरवा के पास चेक करने पर 03 नग इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, 20 मीटर बिजली वायर, नक्सली साहित्य बरामद हुआ। घटना के संबंध में थाना तोंगपाल में अपराध क्रमांक 17/15 धारा 147, 148, 149, 307 भादवि., 25, 27 आम्र्स एक्ट एवं अपराध क्रमांक 03/16 धारा 147, 148, 149, 452, 364, 307, 386 भादवि., 25, 27 आम्र्स एक्ट का प्रकरण पंजीबद्ध है। उक्त चारो नक्सली आरोपियों को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया।

पुलिस के सहयोग से चिंतलनार के ग्रामीणों द्वारा चिंतलनार में आयोजित किया जा रहा ग्रामीण क्रिकेट प्रतियोगिता 2019

06-Apr-2019

जिला सुकमा के थाना चिंतलनार में श्री जितेन्द्र शुक्ल, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री ईश्वर त्रिवेदी, पुलिस अनुविभागीय अधिकारी, जगरगुंडा (चिंतलनार) के मार्गदर्षन में थाना चिंतलनार स्टाफ के ग्रामीणों के सहयोग से ग्रामीण क्रिकेट प्रतियोगिता 2019 का आयोजन किया जा रहा है। प्रतियोगिता में मुकरम, लखापाल, कामाराम, पोटाकेबिन, कोत्तागुड़ा, नागाराम, माता रूकमणी, मोरपल्ली, मिलियमपल्ली, चिंतागुफा, चिंतलनार, पोलमपल्ली, 201 वाहिनी कोबरा, कोंटा, जगरगुंडा एवं दोरनापाल के कुल 16 टीमें हिस्सा ले रही है। प्रतियोगिता में शामिल होने वाली सभी 16 टीमों को आयोजन समिति की ओर से कीट प्रदाय किया जायेगा। प्रतियोगिता का शुभारंभ आज दिनांक 12.02.2019 को किया गया, जिसका फायनल मैच दिनांक 16.02.2019 को खेला जायेगा। प्रतियोगिता का प्रत्येक मैच नाक-आऊट मैच होगा। प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार 21,000 रूपये नगद एवं शील्ड एवं द्वितीय पुरस्कार 15,000 रूपये नगद एवं शील्ड प्रदाय किया जायेगा इसके अतिरिक्त मेन आॅफ दी सिरिज, मेन आॅफ दी मैच, बेस्ट बैट्समेन, बेस्ट बाॅलर का पुरस्कार भी दिया जायेगा। प्रतियोगिता के आयोजन हेतु थाना चिंतलनार स्टाफ एवं ग्रामीणों द्वारा मेहनत एवं लगन से मैदान का निर्माण एवं मैदान को सजाया गया है।

जिला सुकमा में 01 नक्सली आरोपी भरमार बंदूक के साथ गिरफ्तार दिनांक 09.02.2019

06-Apr-2019

जिला सुकमा में श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, श्री जितेन्द्र शुक्ल, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत नक्सलियों की उपस्थिति की मुखबिर से सूचना मिलने पर दिनांक 07.02.2019 को थाना चिंतागुफा से कोबरा कमांडेन्ट उदय दीपांशु, सीआरपीएफ कमांडेन्ट धर्मेन्द्र सिंह, टूआईसी पिन्टू यादव, एसी. अमित सिंह, जिला बल के सउनि. सुरेन्द्र कश्यप के नेतृत्व में जिला बल, 206 वाहिनी कोबरा ‘‘डी’’ कंपनी, 150 वाहिनी ‘‘डी$जी’’ कंपनी एवं क्यूआरटी की संयुक्त पार्टी एरिया डोमिनेशन एवं नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु ग्राम दुलेड़ की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान ग्राम दुलेड़ के जंगल में 01 संदिग्ध व्यक्ति पुलिस पार्टी को देखकर भाग रहा था, जो अपने पास भरमार बंदूक रखा हुआ था, जिसे घेराबंदी कर मौके पर पकड़ा गया, जिससे पूछताछ करने पर अपना नाम कवासी जोगा पिता कवासी सोमड़ू उम्र 50 वर्ष जाति मुरिया साकिन दुलेड़, थाना चिंतागुफा, जिला सुकमा का निवासी होना बताया। मौके पर बरामद भरमार बंदूक के संबंध में धारा 91 जा.फौ. का नोटिस दिया गया, उक्त भरमार बंदूक के संबंध में कोई भी वैध दस्तावेज नहीं होना बताया। आरोपी कवासी जोगा से पूछताछ के दौरान विस्फोटक सामग्री, नक्सली साहित्य, दैनिक उपयोगी सामान जंगल झाड़ी में छिपाना बताने से मौके पर समक्ष गवाहन के मेमोरेण्डम तैयार किया गया एवं आरोपी के बताये स्थान से 01 नग इंसास रायफल का मैग्जीन, डेटोनेटर 02 नग, कोर्डेक्स वायर 20 मीटर, बिजली वायर 20 बंडल, स्टील कंटेनर 14 नग, बैटरी 12 बोल्ट 04 नग, टाॅर्च 03 नग, कलाई घड़ी 01 नग, ड्रम छोटा-बड़ा 01-01 नग एवं नक्सली साहित्य सहित अन्य सामग्री बरामद किया गया। 01 नग भरमार बंदूक एवं बरामद विस्फोटक सामग्री, नक्सली साहित्य, दैनिक उपयोगी सामग्री को लेकर वापस थाना आकर घटना के संबंध में आरोपी कवासी जोगा के विरूद्ध थाना चिंतागुफा में अपराध क्रमांक 03/19 धारा 25 आम्र्स एक्ट, 4 (ख) वि.प. अधि. पंजीबद्ध कर आरोपी को गिरफ्तार कर आज दिनांक 08.02.2019 को माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया।

जिला सुकमा में 01 नक्सली गिरफ्तार, 01 नग भरमार बंदूक सहित भारी मात्रा में नक्सली सामग्री बरामद दिनांक 09.02.2019

06-Apr-2019

जिला सुकमा में श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, श्री जितेन्द्र शुक्ल, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत नक्सलियों की उपस्थिति की मुखबिर से सूचना मिलने पर दिनांक 07.02.2019 को थाना चिंतागुफा से कोबरा कमांडेन्ट उदय दीपांशु, सीआरपीएफ कमांडेन्ट धर्मेन्द्र सिंह, टूआईसी पिन्टू यादव, एसी. अमित सिंह, जिला बल के सउनि. सुरेन्द्र कश्यप के नेतृत्व में जिला बल, 206 वाहिनी कोबरा ‘‘डी’’ कंपनी, 150 वाहिनी ‘‘डी$जी’’ कंपनी एवं क्यूआरटी की संयुक्त पार्टी एरिया डोमिनेशन हेतु ग्राम दुलेड़ की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान ग्राम दुलेड़ के जंगल में 01 संदिग्ध व्यक्ति पुलिस पार्टी को देखकर भाग रहा था, जो अपने पास भरमार बंदूक रखा हुआ था, जिसे घेराबंदी कर मौके पर पकड़ा गया, जिससे पूछताछ करने पर अपना नाम कवासी जोगा पिता कवासी सोमड़ू उम्र 50 वर्ष जाति मुरिया साकिन दुलेड़, थाना चिंतागुफा, जिला सुकमा का निवासी होना बताया। मौके पर बरामद भरमार बंदूक के संबंध में धारा 91 जा.फौ. का नोटिस दिया गया, उक्त भरमार बंदूक के संबंध में कोई भी वैध दस्तावेज नहीं होना बताया। आरोपी कवासी जोगा से पूछताछ के दौरान विस्फोटक सामग्री, नक्सली साहित्य, दैनिक उपयोगी सामान जंगल झाड़ी में छिपाना बताने से मौके पर समक्ष गवाहन के मेमोरेण्डम तैयार किया गया एवं आरोपी के बताये स्थान से इंसास रायफल का मैग्जीन 01 नग, डेटोनेटर 02 नग, कोर्डेक्स वायर 20 मीटर, बिजली वायर 20 बंडल, स्टील कंटेनर 14 नग, बैटरी 12 बोल्ट 04 नग, टाॅर्च 03 नग, कलाई घड़ी 01 नग, ड्रम छोटा-बड़ा 01-01 नग एवं नक्सली साहित्य सहित अन्य सामग्री बरामद किया गया। 01 नग भरमार बंदूक एवं बरामद विस्फोटक सामग्री, नक्सली साहित्य, दैनिक उपयोगी सामग्री को लेकर वापस थाना आकर घटना के संबंध में आरोपी कवासी जोगा के विरूद्ध थाना चिंतागुफा में अपराध क्रमांक 03/19 धारा 25 आम्र्स एक्ट, 4 (ख) वि.प. अधि. पंजीबद्ध कर आरोपी को गिरफ्तार कर दिनांक 08.02.2019 को माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया।

जिला सुकमा में 01 स्थायी वारंटी नक्सली आरोपी गिरफ्तार दिनांक 04.02.2019

06-Apr-2019

जिला सुकमा में श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, श्री जितेन्द्र शुक्ल, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत नक्सलियों की उपस्थिति की मुखबिर से सूचना मिलने पर आज दिनांक 04.02.2019 को थाना कुकानार से थाना प्रभारी उनि. नितेश ठाकुर के हमराह जिला बल, कैम्प कुन्ना से डीआरजी कमांडर उनि. त्रिलोक प्रधान के हमराह डीआरजी एवं कैम्प पेदारास से सीआरपीएफ एसी. प्रेमकुमार के हमराह 226 वाहिनी सीआरपीएफ का संयुक्त बल एरिया डोमिनेशन एवं नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु ग्राम कुंदनपाल की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान ग्राम कुंदनपाल के जंगल में 01 संदिग्ध व्यक्ति को घेराबंदी कर पकड़ा गया। जिससे पूछताछ करने पर अपना नाम आयता तोलका पिता नंदा तोलका (मिलिशिया सदस्य, स्थायी वारंटी) उम्र 28 वर्ष जाति गोंड, साकिन कुन्ना, पेदापारा, थाना कुकानार, जिला सुकमा का निवासी होना बताया। जो थाना कुकानार क्षेत्रान्तर्गत दिनांक 26-27.02.2015 को ग्राम कुन्ना, गढ़पारा में आम नागरिक भीमाराम मरकाम के घर डकैती कर मारपीट करने की घटना में शामिल था। घटना के संबंध में थाना कुकानार में अपराध क्रमांक क्रमशः 11/15 धारा 147, 148, 149, 323, 342, 395 भादवि. पंजीबद्ध है। प्रकरण पर आरोपी की गिरफ्तारी हेतु माननीय न्यायालय सुकमा द्वारा दिनांक 23.07.2016 को स्थायी गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। उक्त नक्सली आरोपी को आज दिनांक 04.02.2019 को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया।

जिला सुकमा में 01 लाख का ईनामी सहित 02 नक्सली आरोपी गिरफ्तार दिनांक 02.02.2019

06-Apr-2019

जिला सुकमा में श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, श्री जितेन्द्र शुक्ल, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत नक्सलियों की उपस्थिति की मुखबिर से सूचना मिलने पर आज दिनांक 02.02.2019 को थाना कोंटा से निरी. शरद सिंह के हमराह स्टाफ जिला बल, एरिया डोमिनेशन एवं नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु ग्राम चिंताकोंटा, बण्डा की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान ग्राम चिंताकोंटा के जंगल में 02 संदिग्ध व्यक्ति पुलिस पार्टी को देखकर भागने/छूपने की कोशिश कर रहे, जिन्हे पुलिस पार्टी द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा गया। जिनसे पूछताछ करने पर अपना नाम क्रमशः 01. सुण्डम जोगा पिता स्व. सुण्डम लखमा (डीएकेएमएस अध्यक्ष, ईनामी 01 लाख रूपये छ.ग. शासन द्वारा) उम्र 25 वर्ष जाति मुरिया, 02. सोड़ी लिंगा पिता सोड़ी हड़मा (एरिया कमेटी डाॅक्टर) उम्र 28 वर्ष जाति मुरिया साकिनान ग्राम सुरपनगुड़ा थाना जगरगुंडा, जिला सुकमा के निवासी होना बताये। जिनमें सुण्डम जोगा के प्लास्टिक थैला को चेक करने पर 15 नग इलेक्ट्रिक डेटोनेटर, 20 मीटर बिजली वायर एवं सोड़ी लिंगा के प्लास्टिक थैला को चेक करने पर कोर्डेक्स वायर लगभग 05 फिट, एवेरेडी पेंसिल बैटरी 12 नग बरामद हुआ। दोनों आरोपियों को बरामद विस्फोटक सामग्री के संबंध में वैध दस्तावेज प्रस्तुत करने 91 जा.फौ. का नोटिस मौके पर तामिल किया गया। आरोपियों द्वारा विस्फोटक सामग्री परिवहन के संबंध में किसी प्रकार का कोई दस्तावेज नहीं होना बताये। दोनों आरोपियों से पूछताछ करने पर विस्फोटक सामग्री को लेकर नक्सली विरोधी अभियान में लगे पुलिस जवानों के विरूद्ध उपयोग में लाने हेतु कोंटा एल.ओ.एस. कमांडर पाड़ा आपू के कहने पर ग्राम गोमपाड़ ले जाना बताये। घटना के संबंध में थाना कोंटा में अपराध क्रमांक 02/19 धारा 34 भादवि., 4 (ख) वि.प. अधि. पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। उक्त दोनों नक्सली आरोपियों को आज दिनांक 02.02.2019 को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया।

जिला सुकमा में 01 स्थायी वारंटी नक्सली आरोपी गिरफ्तार दिनांक 28.01.2019

10-Apr-2019

जिला सुकमा में श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, श्री जितेन्द्र शुक्ल, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत नक्सलियों की उपस्थिति की मुखबिर से सूचना मिलने पर आज दिनांक 28.01.2019 को थाना कुकानार से थाना प्रभारी उनि. नितेश ठाकुर के हमराह जिला बल, कैम्प कुन्ना से डीआरजी कमांडर निरीक्षक विनोद एक्का के हमराह डीआरजी एवं कैम्प पेदारास से सीआरपीएफ एसी. प्रेम कुमार के हमराह सीआरपीएफ ‘‘बी’’ कंपनी का बल नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु ग्राम डोलेरास की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान ग्राम डोलेरास के जंगल में 01 संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ा गया। जिससे पूछताछ करने पर अपना नाम माड़वी लखमा पिता स्व. माड़वी जोगा (मिलिशिया सदस्य, स्थायी वारंटी) उम्र 22 वर्ष जाति गोंड, साकिन डोलेरास, थाना कुकानार, जिला सुकमा का निवासी होना बताया। जो थाना कुकानार क्षेत्रान्तर्गत क्रमशः 01. दिनांक 06.08.2017 को ग्राम पांडूपारा के जंगल में आम नागरिकों से मारपीट कर डकैती करने एवं 02. दिनांक 21.11.2017 को ग्राम जोंगेरास (छोटेगादम) मंदिर के सामने आईईडी लगाने की घटनाओं में शामिल था। घटनाओं के संबंध में थाना कुकानार में अपराध क्रमांक क्रमशः 01. 19/17 धारा 147, 148, 149, 323, 120 (बी), 394 भादवि., 25, 27 आम्र्स एक्ट एवं 02. 27/17 धारा 120 (बी) भादवि., 4 वि.प. अधि. पंजीबद्ध है। प्रकरणों पर आरोपी की गिरफ्तारी हेतु माननीय न्यायालय सुकमा द्वारा क्रमशः दिनांक 08.12.2017 एवं 21.02.2018 को स्थायी गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। उक्त नक्सली आरोपी को आज दिनांक 28.01.2019 को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया। --00--

जिला सुकमा में 01 स्थायी वारंटी नक्सली आरोपी गिरफ्तार

10-Apr-2019

जिला सुकमा में श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, श्री जितेन्द्र शुक्ल, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत नक्सलियों की उपस्थिति की मुखबिर से सूचना मिलने पर दिनांक 23.01.2019 को थाना कोंटा से उनि. शिवानन्द सिंह के हमराह डीआरजी का बल नक्सली गस्त सर्चिग हेतु ग्राम बोड्डीगुड़ा, अरलमपल्ली, कुम्मोपारा, पालामड़गू की ओर एवं थाना पोलमपल्ली से थाना प्रभारी निरी. रितेश यादव, उनि. ललित चन्द्रा के हमराह जिला बल की पार्टी नक्सल गस्त सर्चिग हेतु ग्राम आतुलपारा, अरलमपल्ली की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान दिनांक 24.01.2019 को ग्राम अरलमपल्ली और कुम्मोपारा के बीच जंगल में पूर्व से घात लगाकर बैठे सशस्त्र नक्सलियों द्वारा थाना कोंटा की पुलिस पार्टी को जान से मारने एवं हथियार लूटने की नीयत से अंधाधुंध फायरिंग किया गया। जिससे पुलिस पार्टी द्वारा भी आत्मसुरक्षार्थ जवाबी कार्यवाही में फायरिंग किया गया। पुलिस के बढ़ते दबाव को देखकर सशस्त्र नक्सली जंगल पहाड़ी का आड़ लेकर भाग गये। पुलिस पार्टी द्वारा भागते हुये नक्सलियों का पीछा करते हुये 01 नक्सली को पकड़ा गया। जिससे पूछताछ करने पर अपना नाम माड़वी पोज्जा पिता माड़वी हड़मा उम्र 38 वर्ष जाति गोंड, साकिन अरलमपल्ली, थाना पोलमपल्ली का निवासी तथा नक्सली संगठन में पंचायत कमेटी अध्यक्ष के पद पर कार्यरत् होना बताया। घटना के संबंध में थाना पोलमपल्ली में अपराध क्रमांक 01/19 धारा 147, 148, 149, 307 भादवि., 25, 27 आम्र्स एक्ट पंजीबद्ध किया गया। इसके अतिरिक्त आरोपी नक्सली थाना पोलमपल्ली क्षेत्रांतर्गत दिनांक 19.02.2018 को ग्राम वरदेल, तोंगगुड़ा के पास रोड निर्माण कार्य में लगे 02 वाहनों में आगजनी करने की घटना में शामिल था। घटना के संबंध में थाना पोलमपल्ली में अपराध क्रमांक 03/18 धारा 147, 148, 149, 120 (बी) 435, 506 (बी) भादवि., 25 आम्र्स एक्ट पंजीबद्ध है। उक्त आरोपी के पास से 01 नग भरमार बंदूक एवं घटना स्थल से 01 जोड़ी कालीवर्दी, एल्युमीनियम लीड वायर लकड़ी के डंडे पर लपेटा हुआ 04 बण्डल, 04 नग बैटरी, 03 नग धनुष, 06 नग तीर, नक्सली पर्चा, बैनर, नक्सली साहित्य व अन्य दैनिक उपयोगी सामग्री बरामद किया गया। अपराध क्रमांक 03/18 के प्रकरण पर आरोपी की गिरफ्तारी हेतु माननीय न्यायालय सुकमा द्वारा 25.06.2018 को स्थायी गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। उक्त नक्सली आरोपी को गिरफ्तार कर आज दिनांक 25.01.2019 को माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश किया गया।

जिला सुकमा में 01 स्थायी वारंटी नक्सली आरोपी गिरफ्तार

10-Apr-2019

जिला सुकमा में श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, श्री जितेन्द्र शुक्ल, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत नक्सलियों की उपस्थिति की मुखबिर से सूचना मिलने पर दिनांक 15.01.2019 को थाना चिंतलनार से थाना प्रभारी निरी. सुभाष चैबे के हमराह जिला बल की पार्टी एरिया डोमिनेशन व नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु ग्राम तोंगगुड़ा की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान ग्राम तोंगगुड़ा में घेराबंदी कर 01 संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ा गया। पकड़े गये संदिग्ध से पूछताछ करने पर अपना नाम पोड़ियाम सिंगा पिता पोड़ियाम भीमा (मिलिशिया सदस्य, स्थायी वारंटी) उम्र 28 वर्ष जाति मुरिया साकिन तोंगगुड़ा, थाना चिंतलनार, जिला सुकमा का निवासी होना बतााया। जो थाना चिंतलनार क्षेत्रांतर्गत दिनांक 10.12.2017 को ग्राम तोंगगुड़ा में आम नागरिक के साथ मारपीट करने की घटना में शामिल था। घटना के संबंध में थाना चिंतलनार में अपराध क्रमांक 19/17 धारा 147, 148, 149, 120 (बी), 294, 323, 324, 506, 458, 34 भादवि. पंजीबद्ध है। प्रकरण पर आरोपी की गिरफ्तारी हेतु माननीय न्यायालय सुकमा द्वारा 27.07.2018 को स्थायी गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। उक्त नक्सली आरोपी को गिरफ्तार कर आज दिनांक 16.01.2019 को माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया।

जिला सुकमा में 01 स्थायी वारंटी नक्सली आरोपी गिरफ्तार

10-Apr-2019

जिला सुकमा में श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, श्री जितेन्द्र शुक्ल, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत नक्सलियों की उपस्थिति की मुखबिर से सूचना मिलने पर दिनांक 13.01.2019 को थाना तोंगपाल से थाना प्रभारी उनि. विजय पटेल के हमराह जिला बल एवं सीआरपीएफ एसी. रामचन्द्र राम के हमराह 227 वाहिनी सीआरपीएफ का संयुक्त बल एरिया डोमिनेशन व नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु ग्राम मारेंगा की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान ग्राम मारेंगा पुल के पास 01 संदिग्ध व्यक्ति पुलिस पार्टी को देखकर भागने/छुपने की कोशिश कर रहा था, जिसे घेराबंदी कर पकड़ा गया। पकड़े गये संदिग्ध से पूछताछ करने पर अपना नाम लुदरू नाग पिता डोंगू नाग (पंचायत कमेटी अध्यक्ष, मार्जूम पंचायत) उम्र 25 वर्ष जाति धुरवा साकिन ग्राम मार्जुम, थाना तोंगपाल, जिला सुकमा का निवासी होना बतााया। जो थाना तोंगपाल क्षेत्रांतर्गत क्रमशः 01. दिनांक 23.11.2015 को रा.रा. मार्ग क्र.-30 में बेंगपाल मोड़ के पास बस वाहन को आग लगाकर मार्ग अवरूद्ध कर पुलिस पार्टी पर फायरिंग करने, 02. दिनांक 31.03.2017 को ग्राम मारेंगा नदी के किनारे लिटीरास जाने के रास्ते पर आईईडी लगाने, 03. दिनांक 18.04.2017 को ग्राम टहकवाड़ा कुकड़ी डोंगरी पहाड़ी में आईईडी लगाना, जिसकी चपेट में आने से एक आम नागरिक की मृत्यु एवं एक आम नागरिक घायल हो गया, 04. दिनंाक 19.04.2017 को ग्राम टहकवाड़ा कुकड़ी डोंगरी पहाड़ी में आईईडी लगाने की घटनाओं में शामिल था। घटना के संबंध में थाना तोंगपाल में अपराध क्रमांक क्रमशः 01. 24/15 धारा 147, 148, 149, 435, 341, 307 भादवि., 25, 27 आम्र्स एक्ट, 02. 07/17 धारा 4 वि.प.अधि.सन् 1908, 03. 09/17 धारा 302, 307, 120 (बी) भादवि., 3, 5 वि. प. अधि. एवं 04. 10/17 धारा 4 वि.प. अधि. सन् 1908 अधि. पंजीबद्ध है। उक्त प्रकरणों पर आरोपी की गिरफ्तारी हेतु माननीय न्यायालय सुकमा द्वारा क्रमशः 01. दिनांक 09.04.2018, 02. 01.06.2018, 03. 20.06.2018 एवं 04. 20.06.2018 को स्थायी गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। नक्सली आरोपी को गिरफ्तार कर आज दिनांक 14.01.2019 को माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया।

जिला सुकमा में 02 स्थायी वारंटी नक्सली आरोपी गिरफ्तार दिनांक 05.01.2019

10-Apr-2019

जिला सुकमा में श्री विवेकानंद सिन्हा, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज, श्री जितेन्द्र शुक्ल, पुलिस अधीक्षक सुकमा, श्री शलभ सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुकमा के मार्गदर्षन में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत नक्सलियों की उपस्थिति की मुखबिर से सूचना मिलने पर आज दिनांक 05.01.2019 के प्रातः थाना कुकानार से थाना प्रभारी उनि. नितेश ठाकुर के हमराह जिला बल, कैम्प पेदारास से सीआरपीएफ एसी. चामीनारायण के हमराह 226 वाहिनी सीआरपीएफ एवं कैम्प कुन्ना से डीआरजी कमांडर निरी. विनोद एक्का के हमराह डीआरजी ग्रुप कुकानार का संयुक्त बल एरिया डोमिनेशन व नक्सली आरोपियों की धरपकड़ हेतु ग्राम चुलेरास, कातुलमारी की ओर रवाना हुये थे कि अभियान के दौरान ग्राम चुलेरास के जंगल में 02 संदिग्ध व्यक्ति पुलिस पार्टी को देखकर भागने/छुपने की कोशिश कर रहे थे, जिन्हें घेराबंदी कर पकड़ा गया। पकड़े गये संदिग्धों से पूछताछ करने पर अपना नाम क्रमशः 01. मड़कामी हड़मा पिता मड़कामी हिड़मा (मिलिशिया सदस्य, स्थायी वारंटी) उम्र 30 वर्ष जाति मुरिया, 02. मड़कामी मुया पिता मड़कामी सुकड़ा (मिलिशिया सदस्य, स्थायी वारंटी) उम्र 30 वर्ष जाति मुरिया दोनों साकिनान पुसगुन्ना थाना कुकानार, जिला सुकमा का निवासी होना बताये। जो थाना कुकानार क्षेत्रांतर्गत दिनांक 13.02.2018 को ग्राम जोंगेरास व बड़ेगादम के बीच पहाड़ी में पुलिस गस्त पार्टी पर फायरिंग करने की घटना में शामिल थे। घटना के संबंध में थाना कुकानार में अपराध क्रमांक 07/18 धारा 147, 148, 149, 307 भादवि., 25, 27 आम्र्स एक्ट, 04 वि.प. अधि. पंजीबद्ध है। प्रकरण पर आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु माननीय न्यायालय सुकमा द्वारा दिनांक 23.03.2018 को स्थायी गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था। उक्त दोनों नक्सली आरोपियों को आज दिनांक 05.01.2019 को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय सुकमा के समक्ष पेश कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया। --00--

पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में 02 लाख ईनामी नक्सली ढ़ेर, हथियार सहित भारी मात्रा में अन्य सामग्री बरामद, दिनांक 16.12.2017

06-Apr-2019

जिला सुकमा के थाना चिंतागुफा, फुलबगड़ी, क्षेत्रांतर्गत ग्राम गोगंुडा, परिया, खंुडुसपारा, डोंगिनपारा, माडोपारा व आसपास क्षेत्र में नक्सलियों की उपस्थिति की सूचना पर दिनांक 12.12.2017 को डीआरजी की पार्टी नक्सली गस्त सर्चिंग हेतु रवाना हुई थी। अभियान के दौरान दिनांक 15.12.2017 के प्रातः लगभग 11ः00 बजे ग्राम गोगंुडा एवं माडोपारा के मध्य जंगल में पूर्व से घात लगाकर बैठे नक्सलियों द्वारा पुलिस पार्टी को जान से मारने एवं हथियार लूटने की नीयत से आईईडी विस्फोट कर फायरिंग किया गया। पुलिस पार्टी द्वारा भी तत्काल पोजिशन लेकर आत्मसुरक्षार्थ जवाबी कार्यवाही में फायरिंग किया गया। मुठभेड़ लगभग आधा घंटे तक चली। फायरिंग पश्चात घटना स्थल की बारिकी से सर्चिंग करने पर 01 पुरूष नक्सली का शव व शव के पास से 01 नग 12 बोर बंदूक, 02 नग देषी हेण्ड ग्रेनेड, 10 नग डेटोनेटर, पिट्ठू, 02 नग गांठ बंधा कोर्डेक्स वायर, 01 नग क्लेमोर माईंस, 02 नग ड्रम, 16 नग लोहे का पाईप लगभग 10-10 फीट, 108 नग लोहे का राड भरमार का बैरल साफ करने का, 06 बंडल वेल्डिंग राड, 01 नग माईक्रोवेव अवन, 01 नग 05 इंच का पाईप करीब ढाई इंच लंबाई, भरमार बंदूक का बैरल, 02 नग एयर गन, 03 नग पाईप लगभग डेढ़ फीट लंबाई, 01 नग टूटा हुआ भरमार बंदूक, 03 नग षिकंजा, स्प्रिंटर लगभग 02 कि.ग्रा., 14 नग चपटा फाईल, 06 नग राउण्ड फाईल, 09 नग लकड़ी घिसने का फाईल, 04 नग तिकोना फाईल, 16 नग निडिल फाईल, एयर गन पेलेट्स, 01 नग छोटा सोलर प्लेट, 06 नग प्लग, बंबू स्विच, 02 नग ज्वाईंट बैटरी, फ्लेक्सिबल वायर लगभग 60 मीटर, 02 बंडल केबल वायर, नक्सली साहित्य व अन्य दैनिक उपयोगी सामग्री बरामद किया गया। नक्सलियों द्वारा किये गये आईईडी विस्फोट से डीआरजी के 03 जवान घायल हो गये। मृत नक्सली की षिनाख्त पोड़ियम सन्ना (प्लाटून नं. 29 का सदस्य) निवासी ग्राम तिमिलवाड़ा थाना चिंतागुफा के रूप में हुई है।

पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में 01 नक्सली ढ़ेर, हथियार सहित भारी मात्रा में नक्सली सामग्री बरामद दिनांक 08.12.2017

06-Apr-2019

जिला सुकमा के थाना चिंतागुफा क्षेत्रान्तर्गत ग्राम टोंडामरका, छोटेकेड़वाल, बड़ेकेड़वाल, दुलेड़ क्षेत्र में माओवादी नक्सलियों की उपस्थिति की आसूचना के दृष्टिगत थाना चिंतागुफा से एसटीएफ, डीआरजी, 206 वाहिनी कोबरा, थाना चिंतलनार से जिला बल, 201 वाहिनी कोबरा, थाना भेजी से डीआरजी, एसटीएफ, 202 वाहिनी कोबरा, थाना किस्टाराम से जिला बल, 208 वाहिनी कोबरा एवं कैम्प पालोड़ी से डीआरजी, एसटीएफ तथा कैम्प बुरकापाल से डीआरजी, एसटीएफ, एसएटी सीआरपीएफ का संयुक्त पार्टी दिनांक 04.12.2017 से 06.12.2017 तक विभिन्न ग्रामों बड़ेकेड़वाल, छोटेकेड़वाल, ताड़मेटला, पांतादुलेड़, कहेरदुलेड़, मिनपा, एलमागुंडा, पोटेमंगू, गुंडराजपदर, दुरमा, बुर्कलंका, कन्हाईमरका, दुब्बामरका, सल्लातोंग, तोंडामरका, गच्चनपल्ली, सिंगनमड़गू, सल्लातोंग, कामाराम क्षेत्र में विषेष नक्सल विरोधी अभियान संचालित किया गया था कि अभियान के दौरान थाना चिंतलनार से निकली जिला बल, 201 वाहिनी कोबरा की पार्टी को जान से मारने एवं हथियार लूटने की नियत से दिनांक 05.12.2017 के प्रातः लगभग 09ः40 बजे ग्राम पेंदामेटा पहाड़ी के पास दुलेड़ गांव के निकट जंगल में उपस्थित सषस्त्र वर्दीधारी एवं सादे वेषभूषाधार्री नक्सलियों द्वारा सुरक्षा बलों पर फायरिंग किया गया, पुलिस पार्टी पार्टी द्वारा भी आत्मरक्षार्थ जवाबी कार्यवाही में फायरिंग किया गया। मुठभेड़ पष्चात् घटना स्थल की सर्चिंग करने पर 01 अज्ञात पुरूष नक्सली का षव, 01 नग भरमार बंदूक, पाईप बम, कोडेक्स वायर, एम्युनेषन पाउच, डेटोनेटर 05 नग, बिजली वायर, इलेक्ट्रिक वायर, गन पाउडर, टिकली फटाका, पिठ्ठू, नक्सली साहित्य एवं अन्य दैनिक उपयोग की सामग्री बरामद किया गया। थाना भेजी से निकली 202 वाहिनी कोबरा की पार्टी को जान से मारने एवं हथियार लूटने की नियत से दिनांक 05.12.2017 के प्रातः लगभग 04ः30 बजे कोबरा टीम के उपर नक्सलियों द्वारा ग्राम सल्लातोंग और छोटेकड़वाल के बीच मध्य पहाड़ी के पास फायरिंग किया गया, पुलिस पार्टी द्वारा भी आत्मरक्षार्थ जवाबी कार्यवाही में फायरिंग किया गया, फायरिंग पष्चात् घटना स्थल की सर्चिंग करने पर नक्सली कैम्प से कंट्रीमेट रायफल, देषी ग्रिनेड, डेटोनेटर, नक्सल साहित्य, पिठ्ठू, आईईडी एवं अन्य दैनिक उपयोग की सामग्री बरामद किया गया। थाना किस्टाराम से निकली 208 वाहिनी कोबरा पार्टी को नक्सलियों द्वारा जान से मारने एवं हथियार लूटने की नितय से दिनांक 06.12.2017 के लगभग 11ः30 बजे ग्राम सल्लातोंग और दुब्बामरका के मध्य पहाड़ी के पास फायरिंग किया गया, पुलिस पार्टी द्वारा आत्मरक्षार्थ जवाबी कार्यवाही में फायरिंग किया गया, किसी प्रकार की हताहत नही हुई है। थाना चिंतागुफा से निकली डीआरजी, एसटीएफ पार्टी को नक्सलियों द्वारा जान से मारने एवं हथियार लूटने की नियत से दिनांक 06.12.2017 के दोपहर लगभग 12ः30 बजे ग्राम गुंडराजपदर जंगल के पास फायरिंग किया गया, पुलिस पार्टी द्वारा भी आत्मसुरक्षार्थ जवाबी कार्यवाही में फायरिंग किया गया, मुठभेड़ में सुरक्षा बलों को किसी प्रकार की नुकसान नही हुआ है, पूरे अभियान के दौरान अलग-अलग मुठभेड़ में 07-08 नक्सलियों के मारे जाने एंव घायल होने की संभावना है। घटना स्थल पर खून के धब्बे एवं षव को घसीटने की निषान से इस बात की पुष्टि होती है।